May 30, 2013

आईने में

तुम साथ हो न
फिर क्या डर है
तुम हमेशा साथ थे
हमेशा रहना
बड़ा अच्छा लगता है
तुमसे मिलकर
एक तुम ही तो हो
जिसकी सुनते हैं
वरना नसीहतें तो
बहुत है देने वाले
खैर
मिलते रहना तुम मुझे
आईने में
-©damoda
Post a Comment

Followers