May 30, 2013

चुल्लू भर ज़िन्दगी

एक मुठ्ठी ख़्वाब और चुल्लू भर ज़िन्दगी...
चिमटियों से तारे चुनने हैं, हथेली में रात रखनी है..
कलाई मोड़ देना, सुबह हो जाएगी
Post a Comment

Followers