Apr 24, 2010

अंतराल.....


अब ज़िन्दगी में भी, अंतराल होने लगे है..

योग के साथ, वो मुझे जगाएगी..
ब्रेक फास्ट न्यूज़ में, चाय पिलाएगी..
"जायका इंडिया का" के वक़्त, लंच बनेगा..
दोपहर की "शान्ति" में, बच्चे स्कूल से लौटेंगे..
"अलिफ़-लैला" के वक़्त, दरवाजा खुलेगा..
"बालिका-वधु" आएगी, तब खाना बनाएगी..

"कहानी घर घर की" के वक़्त, बच्चे सो जायेंगे..
"दिल मिल गए" के बाद, हम बेडरूम में जायेंगे..
"दादीसा" की कुछ बातें होगी

उसके बाद.... आदतन वो कहेगी..

"टीवी ऑफ कर दो, सुबह जल्दी उठाना है"
Post a Comment

Followers