Feb 3, 2011

चवन्नी के खोने पर

तुम्हें याद हैं अब्दुल
उस रोज़ जब तुम्हारी
चवन्नी गुम हुई थी
तब मास्टरजी ने
सबके थैले टटोले थे....
अब तो सिर्फ
क्रेडिट कार्ड के खोने पर
शिकायत दर्ज होती है..

पता नहीं था कि
एक अदनी सी अशरफी
वक़्त के साथ
लुढ़कते-लुढ़कते
घिसकर खो जाएगी..
लगता है इसी तरह
दो पलों का प्यार भी
नही बचेगा
अब्दुल की चवन्नी की तरहा...
(जुलाई २०११ से चवन्नी बंद होने वाली है)




  
Post a Comment

Followers